BREAKING देश पंजाब राज्य होम

श्री गुरु नानक देव जी के 550 मैं गुरुपूरब के मौके पर नवजोत सिंह सिद्धू किसी भी राजनीतिक स्टेज पर नजर नहीं आएंगे वह संगत की तरह सेवा निभाएंगे।

पंजाब / सुदर्शन राय, ध्यानचंद : अमृतसर से पूर्व विधायक व नवजोत सिंह सिद्धू की धर्मपत्नी नवजोत कौर सिद्धू आज अमृतसर में अपने हलके के विकास कार्यों का शिलान्यास करने के लिए पहुंची वह इस मौके पर नवजोत कौर सिद्धू ने इलाके में ट्यूबवेल का उद्घाटन किया इस मौके पर नवजोत कौर सिद्धू ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि श्री करतारपुर साहिब कॉरिडोर खुलने पर नवजोत सिंह सिद्धू कोई योगदान नहीं है जो स्वयं श्री गुरु नानक देव जी का योगदान है इस मौके पर नवजोत कोर सिद्धू ने कहा कि उनको पाकिस्तान के वजीरे आजम इमरान खान का भेजा हुआ न्योता मिल गया है लेकिन जितनी देर भारत सरकार उनको क्लीयरेंस नहीं देती और बिना आज्ञा कोई भी काम नहीं होता पहले उन्हें आज्ञा मिलनी चाहिए फिर देखेंगे जाना है और सबसे बड़ी बात यह है हमें शुकराना करना चाहिए कि करतारपुर कॉरिडोर का रास्ता खुल गया है और बिना पासपोर्ट के हम करतारपुर साहिब के दर्शन कर सकते हैं इससे बड़ी और कोई बात नहीं हो सकती वहीं इस मौके पर सुल्तानपुर लोधी और करतारपुर कॉरिडोर में बनने जा रही चीजों पर प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा कि यह पंजाब सरकार की प्राथमिकता होती है कि और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह ने इस बात पर पूरा जोर दिया है और क्या सी पार्टी को चाहिए अच्छा होता अगर शिरोमणि अकाली दल अपने आपको एक धार्मिक पार्टी बता रही है और वह पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह को पहल देते हैं और जो पंजाब के मुख्यमंत्री कार्यक्रम रख रहे हैं और चुपचाप संगत की तरह उनके पीछे चले जाते क्योंकि हम भी आम संगत की तरह ही जाएंगे !

वह इस मौके पर पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए नवजोत कौर सिद्धू ने कहा कि श्री गुरु नानक देव जी के 550 में गुरु पर्व के मौके पर नवजोत सिंह सिद्धू किसी भी स्टेज पर नजर नहीं आएंगे वह संगत की तरह सेवा निभाएंगे !

अटकलें लगाई जा रही थी कि नवजोत सिंह सिद्धू आने वाले समय में भारतीय जनता पार्टी में शामिल हो सकते हैं जिसके लिए वह दिल्ली जाकर अमित शाह से मिले थे लेकिन इस पर सफाई देते हुए नवजोत कौर सिद्धू ने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू ने जो भी किया शर्म किया है किसी से छुपकर नहीं किया और कभी भी चुप कर अपने बारे में नहीं सोच सकते !

इस मौके पर पत्रकारों के सवालों का जवाब देते हुए कहा कि करतारपुर कॉरिडोर पर बनने वाली स्टेज के जिम्मेदार स्वयं देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी है लेकिन इस पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए नवजोत कौर सिद्धू ने कहा की राज्य के मुख्यमंत्री की पहल होती है और राज्य के मुख्यमंत्री की बात सुननी चाहिए और जिस स्टेट जिस राज्य में कार्यक्रम हो रहा हो उस कार्यक्रम की स्टेज में बैठना चाहिए जिस पर नवजोत सिंह सिद्धू ने कहा कि सबके लिए जरूरी था कि वह एक चीज पर इकट्ठा होते और पहले ही हम गुरु नानक देव जी की दिए हुए उपदेश को नहीं मानते तो आगे जाकर हम क्या कह करेंगे !

इस मौके पर नवजोत कौर सिद्धू ने कहा कि वह करतारपुर कॉरिडोर जाने के लिए तैयार है लेकिन वह राजनीतिक पार्टियों के साथ नहीं जाना चाहती उन्होंने कहा कि उनको एक फॉर्म भेजा गया है लेकिन उन्होंने फॉर्म नहीं भरा क्योंकि उन्होंने अपने हलके के लोगों से वादा किया था कि वह जब भी करतारपुर कॉरिडोर जाएंगे तो अपने हलके के लोगों के साथ ही जाएंगे और इस मामले में नवजोत सिंह सिद्धू ने जाने के लिए अप्लाई किया है !

पत्रकारों का सवालों का जवाब देते हुए नवजोत कौर सिद्धू ने कहा कि जिस तरह से विपक्ष के लोग नवजोत सिंह सिद्धू को पाकिस्तानी कह रहे हैं लेकिन उनका कहना यह है कि वह हिंदुस्तानी है हिंदुस्तानी रहेंगे अगर कोई देश किसी दूसरे देश की मदद करता है तो उसमें कोई भी पाकिस्तानी नहीं होता अगर आज देश की आर्थिक ता को देखते हुए देश के किसी भी हिस्से से कोई रास्ता खुलता है तो उससे सैलानियों को बढ़ावा मिलेगा इस पर उन्होंने मांग की है कि बॉर्डर भी खुलना चाहिए जैसे कि पंजाब एक सोने की चिड़िया बनकर रह जाएगा इस मौके पर उन्होंने कहा कि अगर वह पाकिस्तान की मिन्नतें करने के बाद बॉर्डर खुल जाए तो इससे अच्छी बात कोई हो नहीं सकती क्योंकि पंजाब में और कारोबार बढ़ेगा जिससे कि प्यार बढ़ेगा कारोबार बढ़ेगा और दुश्मनी कम होगी इस मौके पर उन्होंने कहा कि नवजोत सिंह सिद्धू ना कभी पाकिस्तान की बोली बोले हैं और ना बोलेंगे !

इस मौके पर पत्रकारों द्वारा प्रताप सिंह बाजवा और पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के बीच चल रही कशमकश के बारे में पूछा जिस तरह से आज प्रताप सिंह बाजवा ने एक बयान में कहा है कि अगर देश के पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह करतारपुर जाएंगे तो वे उनके साथ जाएंगे नहीं तो पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के साथ नहीं जाएंगे उस पर अपनी प्रतिक्रिया जाहिर करते हुए नवजोत कौर सिद्धू ने कहा कि इसका जवाब स्वयं प्रताप सिंह बाजवा दे तो अच्छी बात है लेकिन पंजाब के मुख्यमंत्री के खिलाफ इस तरह की शब्दावली नहीं करनी चाहिए एक पार्टी में रहकर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह के खिलाफ बोलना अच्छी बात नहीं .